वो भूल गए कि उन्हें हसाया किसने था;
जब वो रूठे थे तो मनाया किसने था;
वो कहते हैं वो बहुत अच्छे है शायद;
वो भूल गए कि उन्हें यह बताया किसने था।

Share On Whatsapp




राज़ कितने भी हो वो सब खोल देती है,
कभी-कभी खामोशी भी चीख कर बहुत कुछ बोल देती है..!
Share On Whatsapp




अपने दिल की सड़कें सुधार के रख पगली,
क्यूँकि हम अपने दिल के साथ वहाँ से गुज़रने जा रहे है !!
Share On Whatsapp




याद पर याद

कभी-कभी किसी से ऐसा रिश्ता भी बन जाता है,
की हर चीज से पहले उसी का ख्याल आता है..
Share On Whatsapp




पैसा एक ही भाषा_बोलता है अगर तुमने_आज मुझे_बचा लिया,
तो कल मैं तुम्हें_बचा लुंगा ।।
Share On Whatsapp




रख_भरोसा खुद पर क्यो ढूंढता है फरिश्ते,
पंछीओ के पास कहाँ होते है नक्शे फिर भी ढुंढ_लेते है रास्ते ।।
Share On Whatsapp




क्रोध को जीतने में मौन सबसे_बड़ा सहायक है ।।
Share On Whatsapp




जानते हैं वो_लापरवाह हैं जरा से,
भूल_गये होंगे मुझे_दिल में रखकर_कही ।।
Share On Whatsapp





DMCA.com Protection Status